13.4.10

हैद्राबाद में चिठ्ठागोष्ठी ( bloggers meet )

हमारे शहर हैदराबाद में ईंडी ब्लागर्स की ओर से चिठ्ठागोष्ठी (bloggers meet) का आयोजन होटल सेलेक्ट मनोहर (त्रितारांकित) में रविवार 11 April को किया गया. यूनिवर्सल वालों ने इसे स्पांसर किया था.
इसी की एक छोटी सी रपट प्रस्तुत है. लगभग 150 ब्लागर्स पांच से पचपन की आयु तक के पधारे.ढाई बजे तक सभी वातानूकूलित सभागृह में अपनी अपनी सीटों पर जम गये.अधिकतर इंगलिश में लिखने वाले थे कुछ तेलुगु वाले भी थे किंतु हिंदी ब्लाग वाले केवल हम ही थे.
कार्यक्रम प्रारंभ हुआ ईंडीब्लागर्स की टीम ने अपना परिचय दिया. स्थानीय संयोजक विनीत उर्फ"Hyderabad Rocker" ने भी दो शब्द कहे. फिर slide show शुरु हुआ.
एक ब्लागर ने जो मूल रूप से हैद्राबादी हैं और प्रस्तुत में जर्मनी में है एक बढ़िया विडियो सभी ब्लागर्स के लिये भेजा जिसमे श्री हिटलर को मजाकिया अंदाज में ब्लाग्स की चर्चा करते हुए दर्शाया गया था.सभी ने आनंद लिया.
अब 30 seconds of fame प्रारंभ हुआ जिसमें प्रत्येक ब्लागर को तीस सेकेंडस में अपनी बात रखनी थी. कई लोग झिझके, कुछ अधिक आत्मविश्वासी थे .प्रत्येक ब्लागर ने अपना परिचय दिया, अपने ब्लाग के बारे में बताया, उपस्थित जनों ने तालियां बजा कर उत्साह वर्धन किया.
दो-चार ब्लाग वाले तो कई थे किंतु एक सज्जन ने बताया कि उनके ब्लाग्स की संख्या पचास है. हमने सोचा इन्हें और कुछ करने का समय कैसे मिल पाता होगा. हमने भी अपना परिचय आंग्ल भाषा में ही कुछ इस तरह दिया,












Hi every body... myself vijayprakash. i am only eight months old...of course in blogging. Many bloggers among us have more than one blog...i am poor in that sense... i have only one blog...aapakihamari.blogspot.com...i write humorous poems...please visit.. you'll like them instantly. thanks
सोचा अगर हिंदी में परिचय देंगे तो तालियां कम बजेगी. और बजी हमारे परिचय पर अच्छी तालियां बजी.सारों ने अपना परिचय करा दिया.


अब मजेदार "मेल-जोल सेशन"प्रारंभ हुआ.प्रत्येक ब्लागर को कैलेंडर की तरह का कोरा जाड़ा कागद और एक स्केच पेन दिया गया.जैसा कहा गया उसी प्रकार सभी ने कागद को अपने अपनी पीठ पर लटकाया और सारे ब्लागर्स एक दूसरे की पीठ पर अपने अपने संदेश लिखने लगे.परिचय और hand shake होने लगे. हम भी hi करने लगे और प्रश्न पूछने लगे -(know hindi) नो हिन्दी, है न मजे की बात उत्तर भी ठीक यही मिलता, (no hindi) नो हिन्दी.
हमने कईयों की पीठ पर, कईयों ने हमारी पीठ पर संदेशे लिखे
इसके बाद quiz session शुरु हुआ और इंटरनेट से संबंधित कई प्रश्न पूछे गये, सही उत्तर वालों को पुरस्कार मिले.यह सेशन भी बहुत मजेदार रहा.
लगभग पांच बजे उंची चाय जी हां high tea का शाब्दिक अनुवाद, जिसमें दही भल्ले, मिनी बर्गर, गुलाब जामुन और हां चाय काफी भी काफी थी, सभी ने चर्वण किया.
बाद में चर्चा हुई और समापन में सभी को एक टी-शर्ट उपहार दी गई.तो बंधुओं इस चिठ्ठागोष्ठी में हमने बहुत आनंद लिया और कई नये मित्र बनाये.

9 टिप्‍पणियां:

  1. विजय सपात्ति क्‍यों नहीं आए हैदराबाद में आयोजित इस ब्‍लॉगर मिलन समारोह में। अच्‍छा है। इस प्रकार के आयोजन हिन्‍दी में भी किए जाने चाहिएं।

    उत्तर देंहटाएं
  2. जानकारी देने के लिए शुक्रिया

    उत्तर देंहटाएं
  3. मेरी हिन्दी थोदी कमजोर है फिर भी कोशिश करून्गा !
    मीट मे मै आपके बिलकुल आगे बैट्हा था. आपका इन्तरो बडिया त्हा.
    Nice Blog!
    Happy Blogging

    उत्तर देंहटाएं
  4. रोचक अनुभव बांटने के लिए आभार।

    ..हम भी hi करने लगे और प्रश्न पूछने लगे -(know hindi) नो हिन्दी, है न मजे की बात उत्तर भी ठीक यही मिलता, (no hindi) नो हिन्दी....

    --न जाने कब पूरे देश के लोग गर्व से कह पाएंगे--
    ya I know hindi!

    उत्तर देंहटाएं
  5. know hindi.......no hindi bhaut hi khoob afsos main nahi tha ..par aapne wo kami bhi poori kar di !shukriya but achchha laga !

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत बढ़िया, शानदार और रोचक अनुभव बाँटने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद! सुन्दर प्रस्तुती!

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणी हमारी प्रेरणा

 
चिट्ठाजगत IndiBlogger - The Indian Blogger Community
www.blogvani.com